निष्पक्ष पत्रकारिता ही समाज तथा राजसत्ता का सही मार्गदर्शन कर सकती है—सुबोध उनियाल

ऋषिकेश 16 सितंबर कृषि, कृषि विपणन, कृषि शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा है कि निष्पक्ष पत्रकारिता ही समाज तथा राजसत्ता का सही मार्ग दर्शन कर सकती है जबकि पक्षधर पत्रकारिता न केवल समाज और जनो के बीच कटुता तथा अविश्वास पैदा करती है बल्कि स्वयं पत्रकारिता की सार्थकता पर प्रश्नचिह्न लगाती है।
उनियाल आज यहां परमार्थ निकेतन आश्रम में नेशनल यूनियन आॅफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) एनयूजेआई की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी के समापन सत्र में मुख्य अतिथि थे। उन्होंने अनेक उदाहरण देकर बताया कि पक्षधर तथा पूर्वाग्रही पत्रकारिता लोकतंत्र तथा स्वयं पत्रकारिता के लिये किस कदर घातक है। उनियाल आयोजन में मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में शामिल हुए।
सम्मेलन में यमकेश्वर की विधायक श्रीमती ऋतु खंडूडी भूषण ने विशिष्ट अतिथि के रूप में बोलते हुए कहा कि पत्रकार ज्ञान तथा सूचना से समाज का मार्गदर्शन तथा व्यक्ति का ज्ञानवर्धन करते हैं। लेकिन इसके साथ ही बाजारोन्मुखी टीआरपी लक्षित मीडिया लोगों में अरूचि उत्पन्न करता है जो न केवल स्वयं उसके लिए घातक है बल्कि लोकतंत्र में राष्ट्रवाद व मानववाद विरोधी तत्वों को मजबूत करता है।
परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती जी महाराज ने कहा कि पत्रकार सच के साथ—साथ स्वच्छता का भी प्रसार करें। उन्होंने बताया कि आज और कल उन्होंने एनयूजे आई के राष्ट्रीय पदाधिकारियों के साथ मिलकर कांवड मेले के बाद फैली गंदगी साफ की है। उन्होंने कहा कि पत्रकार इस संदेश को एनयूजे आई के नेतृत्व में देशभर में फैलाएंगे, इसमें उन्हें कोई संदेह नहीं है। उन्होंने कहा कि पत्रकार प्रतिदिन कम से कम एक सकारात्मक समाचार अवश्य लिखे, जिससे व्यक्ति समाज तथा राष्ट्र को प्रेरणा मिले।
इस अवसर पर एनयूजे आई के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक मलिक, महामंत्री मनोज वर्मा, उपाध्यक्ष मनोज मिश्र तथा नागेश्वर राव, कोषाध्यक्ष राकेश आर्य, प्रदेश अध्यक्ष बृजेन्द्र हर्ष, कार्यकारी अध्यक्ष गुलशन नैयर, महामंत्री रवीन्द्र नाथ कौशिक,पूर्व महामंत्रीअमित कुमार, कोषाध्यक्ष अवधेश शिवपुरी, कार्यक्रम संयोजक सुनील दत्त पांडेय, उपाध्यक्ष नागेन्द्र उनियाल, धीरेन्द्र प्रताप सिंह, सतीश जोशी, सचिव राजेन्द्र नाथ गोस्वामी, सुभाष कपिल, श्रीमती निशा शर्मा, सचिन जोशी, नन्द किशोर गर्ग, अजय उप्रेती, कुमारी प्रभा वर्मा, अर्जुन बिष्ट, आशुतोष ममगांई, डॉ राधिका नागरथ, डॉ बुद्धदेव शर्मा, देवेन्द्र दमोगा, मनोज ईष्टवाल, ललित कोठियाल, हरीश जोशी, मौहम्मद खालिद, सुभाष शर्मा, पवन गैरोला, ठाकुर शैलेन्द्र सिंह, राजकुमार ग्रोवर, राजकमल गोयल, गिरधर गोपाल लूथरा, आकांक्षा लूथरा, राजेश शर्मा, आदि ने अतिथियों का स्वागत किया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.